इस्लाम की बुनियाद ही नहीं सभी मत मजहब की बुनियाद की अंध विश्वास है | सिर्फ धर्म में अन्ध विश्वास की कोई जगह नहीं है | https://www.facebook.com/MahendraPalArya/videos/2148031621912930/https://www.facebook.com/MahendraPalArya/videos/2148031621912930/https://www.facebook.com/MahendraPalArya/videos/2148031621912930/

|| इस्लाम की मान्यता ही जिहालत है || इसलाम नाम है अन्ध विश्वास और कुसंस्कार का, कारण कोई भी सवाल नहीं किया जा सकता है जो बोला गया उसे आँख

|| मानव मात्र का लक्ष्य है ईश्वर सानिध्य || यह बड़ा लम्बा प्रकरण है | किन्तु सहज भाव से इसे जानने व समझने के लिए ऋषि पातंजलि कृत योग दर्शन

ईश्वरचन्द्र विद्या सागर जी को अपना आदर्श बताने वाले का यही चारित्र ? मैंने तो कल बताया की यही तो सरकार की कमजोरी है की हमारी वोट को वोट नहीं