आर्य जनों को विशेष सुचना ||

आर्य जनों को विशेष सुचना ||
कल 5 सितम्बर 21 को रात 8 बजे स्ट्रीमयाड पर लाइव आ रहा हूँ, आप लोगों से आग्रह है की जरुर भाग ले कर वैदिक धर्म के बारे में जान कारी लें |
जो सत्य सनातन वैदिक धर्म किसी व्यक्ति विशेष का नहीं है, किन्तु मानव मात्र के लिए हैं | धर्म उसे कहते हैं जो सृष्टि के आदि से है और प्रलय तक के लिए हैं |
 
यह अन्य मत पंथ वालों के जैसे किसी व्यक्ति द्वारा निर्मित नहीं ईश्वर प्रदत्त है सृष्टि के आदि से है और अंत तक के लिए हैं | इसमें किसी भी प्रकार कोई परिवर्तन नहीं आया जो प्रथम से अंत तक ही रहना है |
 
जैसा सूर्य सबके लिए हैं प्रकाश और गर्मी सबको बराबर देता है ठीक इसी प्रकार धर्म हैं | कल इसी विषय पर चर्चा करेंगे आप सभी इसमें जरुर भाग लेकर सत्य क्या है यथार्थ क्या है इसे जानकार अपना जीवन को सफल बनाएं | धन्यवाद के साथ महेन्द्र पाल आर्य | 4/9/21