इन गयासुद्दीन गाजी खान की झूठ को देखें |

इन गयासुद्दीन गाजी की झूठ को देखें |
Gyasudeen Gazi Khan जुबेर जब तू अच्छे से जानता हजरत ईसा (अ०स०) पर् जो किताब अल्लाह ने उतारी थी उसमे काफिरो ने फेरबदल की है और इसी वजह से अल्लाह ने हमारे आका सल्लिलाहो अल्केह व्सल्लम को आखिरी नबी बनाकर भेजा और उनको वो किताब दी जिसको कयामत तँक कोई उसमे फेरबदल नहीं कर सकता
और पूरी दुनिया के इंसान और जीन मिलकर भी अल्लाह के पाक कलाम कुरआन जैसीी एक आयत तँक नहीं बना सकते
इसलिए बाइबल का चैलेन्ज मत लो
Manage
Like · Reply · Message · 15h
Mahendra Pal Arya
Mahendra Pal Arya दुनिया के लोगों इस गाजी मियां की बातें कितनी झूठ है देखें | अल्लाह ने उतारी थी उसमे काफिरो ने फेरबदल की है | इसने लिखा अल्लाह ने उतारी हजरत ईसा पर जो किताब, उसमें काफिरों ने फेरबदल की है | इस जाहिल से कोई पूछे की यह इल्म अल्लाह को पहले से थी अथवा नहीं, की इसमें मानव कहलाने वाले फेर बदल कर देंगे ?अगर अल्लाह को यह ज्ञान होता तो पहले से ही इसकी व्यवस्था करते | जब बाइबिल की गारंटी नहीं ले सके अल्लाह तो कुरान की गारंटी का क्या मतलब ? कारण इससे पहली किताब भी तो अल्लाह की ही भेजी हुई बताई गई ? अगर बाइबिल अब जो है यह असली नहीं है तो क्या असली बाइबिल अल्लाह के पास सुरक्षित है ? जो ईसाई लोग बाइबिल को मानते हैं उनकी क्या गलती है की उनलोगों की दी हुई अल्लाह का ज्ञान कोई इन्सान ने बदला होगा तो पूरी ईसाई कौम को अल्लाह के नजदीक कोई मान्यता क्यों नहीं ? यहाँ अल्लाह और यह अल्लाह वाले सवालों के घेरे में हैं ? रही बात कुरान की आयातों का नकल न ब्नापने की | तो अभी कई दिन पहले भी आप लोगों ने इसी पेज में देखा होगा की मेरे द्वारा कुरान की आयतों का नकल मैंने आप लोगों को भी दिया है | फिर किसका कहना सही है गयासुद्दीन गाजी का अथवा मेरा ? यह विचार आप जैसे ज्ञानी लोगों पर हैं की सत्य और असत्य का निर्णय लें, और इस गयासुद्दीन का गैस निकाल दें | धन्यवाद के साथ महेन्द्रपाल आर्य | 13 /9