ईश्वर ने बनाया मानव, गॉड ने बनाया ईसाई, अल्लाहने कहा मुसलमान बनो |

Conversation with a Hindu IT professional who converted to Islam – Mahender Pal Arya

Mahender Pal Arya
Channel settings
Add to
Share
More
171,774 views
1,283 770
Published on Sep 5, 2014
Like facebook page : https://www.facebook.com/MahenderPalA…

Official website : http://vaidikgyan.in/ http://mahenderpalarya.com/

Youtube Channels :
https://www.youtube.com/user/Mahender…

Subscribe To MahenderPalArya’s Channel :
https://www.youtube.com/user/Mahender…

News category : Pandit Madender Pal Arya Zakir Naik IRF Islamic Research Foundation Peace TV Arya Samaj Ved Quran Moulana Jarjish Yangshala Masjid Debate Hinduism Swamy Dayanand Swaraswati Tarik Murtaza Agnivesh Bengali Vaidikgyan Ishwarchandra Vidyasagar Raja Rammohan Roy Agniveer Rig Sam Yajur Atharva
SHOW MORE
COMMENTS • 2,007

Add a public comment…
Top comments
You have comments awaiting your review
Review

Abdul wahid3 hours agoHighlighted comment
mahenra ji ap kahain South india may kerala chinay bangalore Andra pardesh may hazarou hindu canvart ho rahain Christians our Islam may. Alhumdulilah.
Reply

भाई अब्दुल वाहिद साहब आप का कोमेंट्स देखा धन्यवाद, आप ने लिखा साउथ में केरला चेन्नई बंगलुरू आदि स्थानों में लोग ईसाई और मुस्लमान बन रहे हैं हजारों की तादाद में | अल्हम्दोलिल्लाह | आप को धन्यवाद फिरसे , देते हुए मैं आप से पूछना चाहता हूँ की, किन लोगों को ईसाई, और मुसलमान बनाये जा रहे हैं ? ईसाई और मुसलमान बनने से पहले वह क्या थे ? ईसाई और मुसलमान वह नहीं थे ? सवाल है की वह थे क्या कौन थे जिन्हें ईसाई और मुसलमान बनाये गये ? जब वह दुनियामें आये तो क्या वह मुसलमान और ईसाई बन कर आये थे ? उन्हें दुनिया में भेजने वाला कौन है ? जिस ने दुनिया में भेजा क्या उन्हें पता नहीं है की क्या बनाकर भेजना चहिये ? दुनिया में भेजने वाला परमात्मा है परमात्मा को पता नहीं की इसे क्या बना कर भेजना चाहिए ? आप दुनिया वाले ही उन्हें ईसाई और मुसलमान बना रहे हैं | मतलब बड़ा साफ है, इसे ही कहा जाता है खुदा के ऊपर खुद्कारी, उस परवर दीगर पर भी दोष लगाने में आप जैसे ईसाई और मुसलमानों को पता ही नहीं है की दुनिया में आप लोगों के द्वरा ही मानव समाज को लड़ने लडाने का काम इसी से हो रहा हैं | यानि मानव से मानव को लड़ने का काम आप जैसों के द्वरा ही किया जा रहा है | ईसाई और मुस्लमान बनने वालों को यह पता नहीं लगा की हमें दुनिया में भेजने वाले ने इन्सान बनाकर भेजा है हमें इंसान बनकर ही जाना था किन्तु वह मुस्लमान बन कर जायेगा , परवर दीगर जब उनसे पूछेंगे, की मैंने तुम्हें इन्सान बनाकर भेजा था पर तुम्हें मुसलमान और ईसाई बनाना होता तो क्या मैं तुम्हें बनाकर नहीं भेज सकता था ?
मियां वाहिद साहब क्या जवाब देंगे आप क्या जवाब है आप के पास ?
महेन्द्रपाल आर्य =17 =10 =17 =



Website Hits: 7814