||दो टुक में राष्ट्रीयता की बात ||

|| दो टुकमें राष्ट्रीयता की बात ||
न्यूज़ चेनल में मुझे अभी सुनने को मिला की कांग्रेस पार्टी कह रही है देश द्रोह के जो नारा लगायेंगे अर्थात भारत तेरे टुकड़े होंगे कहने वालों के साथ है |

और यह भी कहती है की ऐसों के लिए कानून बनाकर उनलोगों के समर्थन में उनके साथ खड़ी है | मेरा कहना होगा एक भारतीय जिम्मेदार नागरिक होने के लिए | की चुनाव आयोग को चाहिए देर किये बिना ही इस कांग्रेस जैसे विदेशियों की बनाई पार्टी पर प्रतिवंध लगाना चाहिए |

कारण इसी देश में रह्कर देश के विरोध में जो लोग खड़े हैं उनको समर्थन देना भी देश विरोधी ही है ? ऐसी पार्टी पर अविलम्भ प्रतिवंध लगना चाहिए देश में रह कर देश विरोधी को समर्थन का अर्थ ही है देश का विरोध करना |

ऐसे मानसिकता वाली पार्टी पर फ़ौरन प्रतिवंध लगे जिससे की देश द्रोहियों को अवसर न मिले किसी भी प्रकार देश में रहकर देश का विरोध करे यह भारत वासियों को सहन होने वाला नहीं है | सरकार को चाहिए ऐसे लोगों पर शिकंजा कसे | देश का मजाक बनाकर रख दिया, सरकार अगर इसपर कार्यवाही नहीं करती तो हमारे सुरक्षा वलों को सभी बोडर से हटा लिया जाय उन्हें देश के शत्रुओं के हाथों क्यों मरने दिया जा रहा है ?

अगर देश के अन्दर रह कर देश द्रोही का काम हो सकता है तो उन देश को शत्रुओं अथवा देश की सुरक्षा के लिए उन सुरक्षा वालों को किसलिए मरने दे रही है सरकार ?
इस लिए सरकार को चाहिए जैसा बोर्डर में सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया है, ठीक उसे प्रकार, देश के अन्दर बैठे लोग जो देश विरोधी बात करें उन्हें फ़ौरन पकड़ कर जेल भेज दें |
धनयवाद के साथ महेन्द्रपाल आर्य =27 /3/19 =