articles

articles

किसी भी मुस्लमान ने हमारे सैनिकों का आभार व्यक्त किया ? मैं सलाम करता हूँ अपने सैनिकों को जिन्होंने दुश्मनों को मजा चिखवा दिया। प्रधानमंत्री जी को भी सलाम है,

यह लेख उन्ही दिनों का है जब यह घटना घटी थी | || यह सब गुरु नहीं, गुरु घंटाल ही हैं || पिछले दिन मै लिखा था भारत वासी गुरु

नेता कोई चीनपन्थी हो या पाक पन्थी उनकी रक्षा सैनिकों के हाथ | धन्य हैं भारत के लोग और उनकी मानसिकता, खिलाडी चाँदी जीता,उसके देश लौटने से पहले ही तिजोरी

आज 27/11/16 रात 8 बजे IBN 7 में जो देखा | सभी मित्र मण्डली को नमस्ते,मैं आप लोगों के साथ कई दिनों से जुड़ नही पाया कार्य व्यस्तता के कारण

विद्या के कारण तत्वदर्शी परमात्मा द्रष्टा भारत के ऋषि मुनियों का देंन है इसलिए दार्शनिक आज भी इस देशको अध्यात्मिकता में विश्व गुरु कहा।   एक तरफ तो अध्यात्मिकता की

मानवों में धर्म,अर्थ,काम,और मोक्ष,यह चार प्रधान है, पशुओ में,काम,और अर्थ है वह धर्म नहीं जानता,माता व् पिता को नही,मानव मात्र का धर्म एक है। मानव लिखते पढ़ते हैं इन्हीं बातों

प्रश्न है, की मुहर्रम सिर्फ बंगाल में मनाये जाते हैं,अथवा सम्पूर्ण देशमें,तो बंगाल में ही यह परेशानी किस लिये ? पहले हम जानते हैं मुहर्रम को, क्या है यह मुहर्रम

बिसमिल्लाह शब्द पर, दयानंद जी के मन्तव्य || सम्पूर्ण मानव समाज में,कुरान को कलामुल्लाह { अल्लाह की कही हुई वाणी } मानते हैं | अन्य ग्रंथो को भी ईश् वाणी

मानो आर्यों का ही मेला था | आर्य जगत के भामाशाह् कहेजाने वाले स्वनाम धन्य श्रीठाकुर विक्रम सिंह जीअपने जन्मस्थली खेडी राजपूताना= जिला मुज़फ़्फ़र् नगर उ०प्र० मे तीन दिवसीयआर्य सम्मेलनअपने

इस्लाम वालों के इस मिथ्याचार को देखें और सुनें | mahendra pal arya ko jawab/zakir naik 2016 youtube.com https://www.youtube.com/watch?v=mzz8qCLN60M youtube में किस प्रकार गलत प्रचार कर रहे इस्लाम वाले जरा