|| हमारे देश में, अपुज्यों की पूजा, व, पूजनीय त्रिषकृत || मोदी जी प्रधान मंत्री बने तब केजरीवाल व कई लोग पूछने लगे कितने पढ़ेंलिखे हैं यह सवाल राबड़ी जी

न लिङ्गम धर्म कारणम् = धर्मके लिए बाहरी चिहिंन की कोई भी ज़रूरत नही धर्म दिखाने के लिए नही होते,धर्म क्या है जानने का विषय है,मानने का नहीं ।  

यह भाई भतीजा और परिवार वाद समाप्त होना चाहिए || भारत से यह भाई भतीजा व परिवारवाद की राजनीती खत्म नही हो सकती कोई कानून बनना उचित नहीं की एक

हम तलाक प्रकरण व औरतों को कुरान में देखें | وَلَا تَنكِحُوا الْمُشْرِكَاتِ حَتَّىٰ يُؤْمِنَّ ۚ وَلَأَمَةٌ مُّؤْمِنَةٌ خَيْرٌ مِّن مُّشْرِكَةٍ وَلَوْ أَعْجَبَتْكُمْ ۗ وَلَا تُنكِحُوا الْمُشْرِكِينَ حَتَّىٰ يُؤْمِنُوا ۚ وَلَعَبْدٌ مُّؤْمِنٌ خَيْرٌ

धर्म को लोगों ने जाना ही नही | धर्म किसी व्यक्ति के बनाये नहीं,सूर्य धरती आकाश सागर नदियां जैसा ईश्वर अधीन है ठीक धर्म भी वैसा ही है | ईसाई,इस्लाम,जैनी

धर्मपर आचरण करने वालों का नाम मानव है कोई पशु धर्म नही जानता और ना पशु के लिए धर्म है,मानव ही धर्मपर आचरण करता है ,माँ को माँ कहना ही


The Posts

कुरान का इंशाल्लाह शब्द सही नहीं, फिर भारत को इस्लामिस्तान क्यों नहीं बना पाए ?

कहना किसका सत्य है अल्लाह का या फिर मुसलमानों का ?

व्यक्ति पूजा का नाम इस्लाम है, उन्ही के आलिमों से सुनिए, और मेरा जवाब भी |

अल्लाह का कहना क्या है दुनिया वाले भी सुनें ||

तर्क के कसौटी पर अल्लाह,और अल्लाह वाले नहीं आ सकते |

तर्क के सामने अल्लाह भी निरुत्तर

अल्लाह ने कहा कुरान का नक़ल नही बना सकते =इसी कुरान का नकल सुनिये |

मौलाना अब्दुर रज्जाक से फोन पर वार्ता ,इनलोगों के पास जवाब ही नहीं है |

मौलाना अब्दुर रज्जाक से वार्ता फोनपर

कुरान कला मुल्ला नहीं है प्रमाण तफसीरे इबने कसीर से |

Website Hits: 8148