ऋषि दयानंद जी के विचार विरुद्ध कार्य आर्य सभा और समाज द्वारा – राजस्थान में |

https://youtu.be/BJa0O_zyapM
ऋषि दयानन्द जी की बनाई आर्यसमाज में उन्हीं ग्रंथों से ईश्वर तत्व परोसा गया है – जिन ग्रंथों को ऋषि ने जाली ग्रन्थ बताया, कुरान बाइबिल पुराण आदि को |
 
आर्य प्रतिनिधि सभा राजस्थान,और दौसा आर्य समाज के अधिकारी द्वारा यह कार्य क्रम कराया गया | 7 जुलाई 20 को |
 
मेरे द्वारा दिया गया वेद मन्त्रों का प्रमाण ईश्वरतत्व प्रस्तुति करण आर्य समाजियों को रास नहीं आया |
इन्हें कुरान पसंद आया, वह भी उनके द्वारा जिन्हें मई 8 फरवरी 2008 को बुलन्द शहर खवाज पूरन्य गाँव आर्य समाज में हरा चूका हूँ –
 
जिन अब्दुल्ला तारिक को,यहाँ भी फिर मैं सब को चुनौती दिया हूँ सुनिए इस विडिओ को |