क्या कुरान का यह कहना सही नहीं ?

यह खुद कहते हैं अल्लाह जो चाहता वही होता है, जो नहीं चाहता तो नहीं होता यह बात अल्लाह ने कुरान में खुद फ़रमाया >जैसा देखें कुरान में है
وَمَا تَشَاءُونَ إِلَّا أَن يَشَاءَ اللَّهُ رَبُّ الْعَالَمِينَ [٨١:٢٩]
और तुम तो सारे जहॉन के पालने वाले ख़ुदा के चाहे बग़ैर कुछ भी चाह नहीं सकते | सूरा 81 =29 = एक ही प्रमाण दिया अनेक प्रमाण है |

स्पष्ट कहा अल्लाह ने,और तुम तो सारे जहॉन के पालने वाले ख़ुदा के चाहे बग़ैर कुछ भी चाह नहीं सकते |

फिर भारत द्वारा पाकिस्तान में जो हुवा वह अल्लाह ने ही चाहा क्या यह कुरानी आयत सही नहीं है ?